Advertisement

राजस्थान: एक शख़्स पर हमला, वीडियो में पाकिस्तान जाने को कहते दिखा समूह

मामला अजमेर ज़िले का है. पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया पर सामने आए एक वीडियो के आधार पर पांच लोगों को एहतियातन हिरासत में लिया गया था. वीडियो में दिख रहे पीड़ित और उनके साथ के कुछ अन्य लोग भीख मांगते नज़र आ रहे हैं.

राजस्थान के अजमेर में मुस्लिम शख्स को प्रताड़ित करते लोग. (स्क्रीनग्रैब: ट्विटर/@saeedkhan565)

जयपुर: राजस्थान के अजमेर जिले में एक शख्स को प्रताड़ित किए जाने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसमें उसे एक समूह के लोगों द्वारा घेरा गया है और समूह में से एक शख्स कथित तौर पर उसे पाकिस्तान जाने के लिए कह रहा है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, वीडियो में दिख रहा पीड़ित और उसके साथ कुछ अन्य लोग भीख मांगते नजर आ रहे हैं.

अजमेर पुलिस के अनुसार, यह मामला पिछले सप्ताह का है और वीडियो के आधार पर पांच लोगों को एहतियातन हिरासत में रखा गया है.

अजमेर दक्षिणी के क्षेत्राधिकारी मुकेश कुमार सोनी ने कहा, ‘हमें 20 अगस्त को वीडियो मिला और अगले दिन वीडियो में उस व्यक्ति के साथ मारपीट करने वाले पांच लोगों को सीआरपीसी की धारा 151 (संज्ञेय अपराधों को रोकने के लिए गिरफ्तारी) के तहत एहतियातन हिरासत में ले लिया गया.’

उन्होंने आगे कहा, ‘शुरुआती जांच से संकेत मिला है कि घटना चार दिन पहले की है और यह रामगंज पुलिस स्टेशन के तहत आने वाले सुभाष नगर इलाके का मामला है. हमने पीड़ित का पता लगाने का प्रयास किया लेकिन असफल रहे. ऐसा लगता है कि वह एक मुस्लिम शख्स हो सकता है और किसी अन्य राज्य से राजस्थान आया होगा.’

अभियुक्तों को एक दिन की हिरासत में रखने के बाद सोनी ने कहा कि उन्हें मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया था और जमानत पर छोड़ दिया गया.

उन्होंने कहा, ‘उन्हें रिहा किए जाने से पहले पांचों आरोपियों के खिलाफ सांप्रदायिक घटनाओं से संबंधित सीआरपीसी की धारा 108 के तहत एहतियातन कार्रवाई की गई. हम पीड़ित का पता नहीं लगा सके इसलिए एफआईआर नहीं दर्ज हुई. देशभर से बहुत से तीर्थयात्री अजमेर दरगाह आते हैं और ऐसा लगता है कि पीड़ित से था.’

अजमेर के रामगंज पुलिस स्टेशन के कांस्टेबल गजेंद्र ने कहा कि जिन पांच आरोपियों को एहतियातन हिरासत में लिया गया, वे 40 वर्षीय ललित शर्मा, 32 वर्षीय सुरेंद्र, 27 वर्षीय तेजपाल, 32 वर्षीय रोहित शर्मा और 31 वर्षीय शैलेंद्र टैंक थे.

क्षेत्राधिकारी सोनी ने कहा, ‘अगर पीड़ित आगे आकर शिकायत करता है तो सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाएगी.’



source http://thewirehindi.com/183423/rajasthan-ajmer-man-assaulted-asked-to-go-to-pakistan/

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ