Advertisement

पैंक्रियाटाइटिस के कारण, लक्षण और इलाज को जानें

पैंक्रियाटाइटिस एक बीमारी है जिसमें आपके अग्न्याशय (पैंक्रियास) में सूजन हो जाता है. अग्न्याशय आपके पेट के पीछे और छोटी आंत के पास एक लंबी ग्लैंड है. आपका अग्न्याशय या पैंक्रियास का दो मुख्य काम है- ये शक्तिशाली पाचक एंजाइम्स को आपकी छोटी आंत में भोजन को पचाने में मदद के लिए छोड़ता है, दूसरा काम रक्त वाहिकाओं में इंसुलिन और ग्लूकागन को जारी करना है. ये हार्मोन्स भोजन के इस्तेमाल में आपके शरीर को ऊर्जा के लिए मदद करते हैं. आपके पैंक्रियास को नुकसान पहुंच सकता है जब पाचक एंजाइम्स आपके पैंक्रियास जारी करने से पहले काम शुरू कर दें.

पैंक्रियाटाइटिस की दो शक्लें क्रोनिक और एक्यूट हैं
एक्यूट पैंक्रियाटाइटिस में अचानक से सूजन का हो जाना है जो थोड़ी देर के लिए रहता है. एक्यूट पैंक्रियाटाइटिस के ज्यादातर मरीज पूरी तरह सही इलाज पाने के बाद ठीक हो जाते हैं. गंभीर मामलों में एक्यूट पैंक्रियाटाइटिस ब्लीडिंग, टिश्यू को गंभीर नुकसान, संक्रमण का कारण बनता है. गंभीर पैंक्रियाटाइटिस दूसरे महत्वपूर्ण अंगों जैसे दिल, लंग्स और किडनी को भी नुकसान पहुंचा सकता है. 

क्रोनिक पैंक्रियाटाइटिस दीर्घकालीन सूजन है. ये अक्सर एक्यूट पैंक्रियाटाइटिस होने के बाद होता है. दूसरा शीर्ष कारण लंबे समय तक अल्कोहल का बहुत ज्यादा सेवन है. भारी अल्कोहल के सेवन से आपके पैंक्रियास को नुकसान कई वर्षों तक लक्षणों का कारण नहीं हो सकता, लेकिन फिर अचानक आपको गंभीर पैंक्रियाटाइटिस के लक्षण हो सकते हैं.

एक्यूट पैंक्रियाटाइटिस के इलाज 
आपको शायद अस्पताल में रहने की जरूरत होगी, जहां आपके इलाज में पैंक्रियास के संक्रमित होने पर एंटीबॉयोटिक्स का इस्तेमाल, सुई के जरिए तरल पदार्थों का पहुंचाना, भूखा रखना शामिल हो सकता है. आपको खाना रोकने की जरूरत हो सकती है ताकि आपका पैंक्रियास ठीक हो सके. इस स्थिति में आपको पोषण आहार नाल के जरिए दिया जाएगा.  

क्रोनिक पैंक्रियाटाइटिस के इलाज
क्रोनिक पैंक्रियाटाइटिस होने पर आपको ज्यादा इलाज की जरूरत होगी. उसमें डायबिटीज का सामना करने के लिए इंसुलिन, दर्द की दवा, सर्जरी या दर्द से राहत के लिए प्रक्रिया या ब्लॉकेज का इलाज शामिल है. 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जताई चिंता, कहा- लोग कोरोना की तीसरी लहर को मौसम समाचार की तरह ले रहे हैं

Brain Fog: कोरोना से ठीक होने के बाद ब्रेन फॉग की शिकायत, जानें लक्षण, कारण और इलाज

Source link

The post पैंक्रियाटाइटिस के कारण, लक्षण और इलाज को जानें appeared first on Latest News In Hindi हिंदी मैं ताज़ा समाचार.



source https://www.hindinewslatest.in/%e0%a4%aa%e0%a5%88%e0%a4%82%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%9f%e0%a4%be%e0%a4%87%e0%a4%9f%e0%a4%bf%e0%a4%b8-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%a3/

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ