विद्या प्राप्ति के लिए इस मंत्र का करें जाप

नई दिल्ली (लोकसत्य)। केवल हमारा ही देश ऐसा है। जहां किताब नीचे गिर जाने पर या पैर लग जाने पर उसे मस्तक से लगाया जाता है और माफ़ी की प्रार्थना की जाती है। क्या कभी सोचा है की हम ऐसा क्यों करते हैं इसका कारण है की हमें शुरू से ही सिखाया जाता है की किताबों मे विद्या की देवी बस्ती हैं जी हाँ सरस्वती माँ। अगर हमें अच्छी शिक्षा चाहिए तो जरूरी है की हमारे ऊपर सदैव सरस्वती माँ की कृपा बनी रहे। क्योंकि माता सरस्वती विद्या की देवी कहलाती हैं। इसलिए विद्यार्थी को विद्या की देवी माता सरस्वती को हमेशा प्रसन्न रखा चाहिए। और उनकी आराधना आदि करनी चाहिए। विद्यार्थी को नित्य माता सरस्वती की आरती-प्रार्थना आदि करना चाहिए। तथा माता सरस्वती के मंत्रों का जाप भी करना चाहिए। तो आइए आप भी जानें माता सरस्वती को प्रसन्न करने के उपायों और मंत्र।

ध्यान रखें विद्यार्थी
हर किसी विद्यार्थी को यह बात ज्ञात होनी चाहिए, कि हमने जीवन में जितनी भी विद्या ग्रहण की है, वह विद्या हमें जीवन में किसी ना किसी स्थान पर अवश्य काम आती है। विद्या के बिना संसार में जीना एक पशु के समान होता है। विद्या प्राप्ति मंत्रों का जाप बुद्धिमत्ता के लिए किया जाता है, यह स्मरण शक्ति को बढ़ाता है, सीखने की शक्ति को तेज करता है और संचार कौशल को तेज करता है। ये मंत्र रचनात्मकता की प्रतिभा को बढ़ाते हैं। इन मंत्रों को छात्रों के लिए एकाग्रता और स्मृति की शक्ति में सुधार करने के लिए जाना जाता है।

सरस्वती मंत्र
या देवी सर्वभूतेषु बुद्धिरूपेणसंस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।
जब भी आप पढ़ाई को प्रारंभ अथवा समाप्त करें तो प्रतिदिन विद्या की देवी माता सरस्वती देवी के इस मंत्र का जाप अवश्य करें। सरस्वती देवी का मूल मंत्र प्रतिदिन स्नान आदि नित्य क्रियाओं से निवृत होने के बाद आप माता सरस्वती के मूल मंत्र का जाप आरंभ करें। और आप मंत्र का जाप करते समय अपने सामने मां सरस्वती का यंत्र या प्रतिमा आदि स्थापित करें, यंत्र के ऊपर श्वेत चंदन, श्वेत पुष्प व अक्षत माता सरस्वती को भेंट करें। और धूप-दीप जलाकर माता सरस्वती की पूजा करें। और अपनी मनोकामना का मन में स्मरण करें। और माता सरस्वती के मूलमंत्र का एक माला जाप करें।

The post विद्या प्राप्ति के लिए इस मंत्र का करें जाप appeared first on Hindi News: हिन्दी न्यूज़, Latest News in Hindi, Breaking Hindi News, लेटेस्ट हिंदी न्यूज़, ब्रेकिंग न्यूज़ | Loksatya.



source https://www.loksatya.com/spirituality/chant-this-mantra-for-learning/

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ