Advertisement

कोरोना काल: जिंक से बढ़ा रहे इम्युनिटी, लेकिन इसके ज्यादा इस्तेमाल से हो सकते हैं यह साइड इफेक्ट्स

<p style="text-align: justify;">जिंक एक मिनरल है जो आपके शरीर में कई महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. ये पोषक तत्व इम्यून सिस्टम और बचपन के दौरान विकास का समर्थन करता है. जिंक का कम लेवल किसी शख्स की बीमारी के खतरे को बढ़ा सकता है. ये शरीर को प्रोटीन और DNA बनाने में सक्षम बनाता है और घाव भरने में योगदान देता है. जिंक कई फूड्स जैसे बीन्स, पोल्ट्री मांस और मछली में स्वाभाविक तौर से होता है. ये डाइटरी सप्लीमेंट के तौर पर भी उपलब्ध होता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>जिंक का इस्तेमाल शरीर के लिए है जरूरी</strong></p>
<p style="text-align: justify;">आपका शरीर स्वाभाविक रूप से जिंक का उत्पादन नहीं करता है, आपको इसे फूड या सप्लीमेंट्स के जरिए हासिल करना पड़ता है. इंसानी शरीर अतिरिक्त जिंक को स्टोर नहीं करता है, इसलिए डाइट के तौर पर नियमित उसका इस्तेमाल किया जाना चाहिए. उसका इस्तेमाल कई उद्देश्यों के लिए भी किया जाता है. कोरोना महामारी काल में कुछ शोधकर्ताओं ने सुझाव दिया है कि जिंक का प्रयाप्त लेवल बरकरार रखने से संभावित तौर पर कोविड-19 के खिलाफ कुछ सुरक्षा मिल सकती है.</p>
<p style="text-align: justify;">ये ध्यान रखना जरूरी है कि जिंक किसी शख्स के संपूर्ण स्वास्थ्य और बीमारी के खिलाफ प्रतिरोध की क्षमता को बढ़ा सकता है, लेकिन वर्तमान में कोई सबूत नहीं हैं कि ये कोविड-19 की रोकथाम या इलाज कर सकता है. हर दिन जिंक की मात्रा की जरूरत आपकी उम्र पर निर्भर करती है. हालांकि, जिंक के अधिक इस्तेमाल से जुड़े संभावित साइड-इफेक्ट्स के कारण बेहतर है कि रोजाना की ऊपरी सीमा पार न करें. निर्देश के मुताबिक इस्तेमाल करने से जिंक सप्लीमेंट्स सुरक्षित और प्रभावी हो सकता है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ओवरडोज से हो सकते हैं साइड-इफेक्ट्स</strong></p>
<p style="text-align: justify;">जिंक के ओवरडोज से मतली, उल्टी, डायरिया और पेट दर्द समेत प्रतिकूल प्रभाव का खतरा रहता है. ज्यादा इस्तेमाल से जिंक कॉपर को अवशोषित करने की आपके शरीर की क्षमता से छेड़छाड़ भी कर सकता है, जिससे संभावित तौर पर प्रमुख मिनरल की आगे चलकर कमी की आशंका रहती है. इसके अलावा, जिंक सप्लीमेंट्स खास एंटीबायोटिक्स के अवशोषण में बाधा पैदा कर सकता है. साइड-इफेक्ट्स के खतरे को कम करने के लिए अनुशंसित खुराक की पाबंदी करना जरूरी है.&nbsp;अनुशंसित सीमा पार करने से फ्लू की तरह के लक्षण जैसे बुखार, खांसी, सिर दर्द और थकान की वजह बन सकता है.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong><a title="Bodybuilding Tips: बिना GYM के घर पर रहकर करें व्यायाम, 1 महीने में बन जाएगी आर्कषक बॉडी" href="https://ift.tt/3bAK5Ut Tips: बिना GYM के घर पर रहकर करें व्यायाम, 1 महीने में बन जाएगी आर्कषक बॉडी</a></strong></p>
<p style="text-align: justify;"><strong><a title="हार्ट के मरीजों के लिए बेहद खतरनाक हैं ये चीजें, अपने भोजन से तुरंत दूर करें" href="https://www.abplive.com/lifestyle/health/these-things-are-very-dangerous-for-heart-patients-remove-them-immediately-from-your-food-1915081">हार्ट के मरीजों के लिए बेहद खतरनाक हैं ये चीजें, अपने भोजन से तुरंत दूर करें</a></strong></p>

Source link

The post कोरोना काल: जिंक से बढ़ा रहे इम्युनिटी, लेकिन इसके ज्यादा इस्तेमाल से हो सकते हैं यह साइड इफेक्ट्स appeared first on Latest News In Hindi हिंदी मैं ताज़ा समाचार.



source https://www.hindinewslatest.in/%e0%a4%95%e0%a5%8b%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%a8%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%9c%e0%a4%bf%e0%a4%82%e0%a4%95-%e0%a4%b8%e0%a5%87-%e0%a4%ac%e0%a4%a2%e0%a4%bc%e0%a4%be-%e0%a4%b0%e0%a4%b9/

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ