PMAY सस्ते मकान के खरीदारों में 46 फीसद से अधिक लोगों को इन फायदों की जानकारी नहीं

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के तहत मिलने वाले फायदों को लेकर लोगों के बीच जागरूकता की कमी दिखाई देती है। मोदी सरकार ने हाल में पेश आम बजट में योजना के लाभ आगे बढ़ाएं हैं, इसके बावजूद मौजूदा घर खरीदारों में से 46 फीसद से अधिक लोगों को इसके तहत मिलने वाले फायदों की जानकारी नहीं है। एक सर्वेक्षण में यह पता चला है।

2022 तक सभी को आवास का लक्ष्य

गुरुग्राम स्थित एक स्टार्टअप, बेसिक होम लोन, ने यह सर्वेक्षण किया है, जिसमें पिछले नौ माह के दौरान सस्ते मकान की श्रेणी के तहत कर्ज लेने वाले एक हजार लोगों से पीएमएवाई योजना के लाभों को लेकर सवाल पूछे गए। सरकार ने वर्ष 2022 तक सभी को आवास उपलब्ध कराने के लिए 2015 में पीएमएवाई योजना की शुरुआत की।

पीएमएवाई योजना 2021 के नए फीचर

सर्वेक्षण के मुताबिक पीएमएवाई योजना के 2021 के नये संस्करण में कुछ नये फीचर जोड़े गए हैं। इसमें मध्यम आय वर्ग (एमआईजी-एक) और एमआईजी- दो को योजना का लाभ 31 मार्च, 2021 तक दिया गया है। वहीं एलआईजी और ईडब्ल्यूएस वर्गों के लिए इसकी समयसीमा को 31 मार्च, 2022 तक बढ़ा दिया गया है। इसके अलावा सरकार ने सस्ते मकानों के लिए लिए गए कर्ज पर दिए जाने वाले ब्याज पर डेढ़ लाख रुपये अतिरिक्त कटौती का लाभ भी दिया है। इस साल के बजट में इस लाभ को मार्च, 2022 तक बढ़ा दिया गया है। सस्ती आवासीय परियोजनाओं के लिए कर अवकाश लाभ को भी मार्च, 2022 तक बढ़ा दिया गया है। इसके साथ ही अधिसूचित किराया आवासीय परियोजनाओं के लिए भी कर छूट की अनुमति दी गई है।

एनबीएफसी से होम लोन और उपभोक्ता ऋण लेना हुआ सस्ता, नए और पुराने ग्राहक दोनों को फायदा

83 फीसद लोग नहीं जानते कि 2.67 लाख रुपये तक मिलती है सब्सिडी 

सर्वेक्षण में 17 फीसद से कम लोगों को ही इसकी जानकारी थी कि पीएमएवाई योजना के तहत अधिकतम 2.67 लाख रुपये तक की सब्सिडी उपलब्ध कराई जाती है। केवल 48 फीसद जवाब देने वालों को यह पता था कि आर्थिक रूप से कमजोर (ईडब्लयूएस) और निम्न आय वर्ग (एलआईजी) वर्ग के घर खरीदार इसके तहत कवर होने वाले प्राथमिकता प्राप्त उपभोक्ता है। 

लोन चुकाने की अधिकतम अवधि 20 साल 

बेसिक होम लोन्स, मध्यम और निम्न आय वाले परिवारों को बैंकों का चक्कर लगाये बिना घर बैठे होमलोन उपलब्ध कराने का काम करती है, इसके लिएवह कोई शुल्क नहीं लेती है। यह एक वित्तीय प्रौद्योगिकी स्टार्टअप है। कंपनी का 16 बैंकों के साथ गठबंधन है। उसका कहना है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कर्ज लौटाने की अधिकतम अवधि के बारे में 37 फीसद लोगों ने ही सही जवाब दिया। अधिकतर लोगों ने इसे 30 साल बताया जबकि अधिकतम अवधि 20 साल है।

होम लोन पर पा सकते हैं पांच लाख तक की टैक्स छूट, उठा सकते हैं सस्ते लोन का फायदा

 बेसिक होम लोन्स के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अतुल मोंगा ने कहा कि पीएमएवाई के तहत पात्र लाभार्थियों को योजना का लाभ स्वत: मिलना चाहिये। उन्हें इसका लाभ पाने के लिए नया आवेदन करने की प्रक्रिया से नहीं गुजरना चाहिये। ”योजना को शुरू हुये छह साल हो चुके हैं। इसके बाद से इसमें दो और श्रेणियों को शामिल किया गया है फिर भी पात्र जनता योजना की बुनियादी जानकारी से अनभिज्ञ लगती है। ऐसे में कर्जदाताओं, सरकार और इससे जुड़े तमाम संस्थानों को योजना के बारे में जागरूकता बढ़ाने की जिम्मेदारी उठानी चाहिये।

 

Source link

The post PMAY सस्ते मकान के खरीदारों में 46 फीसद से अधिक लोगों को इन फायदों की जानकारी नहीं appeared first on Latest News In Hindi हिंदी मैं ताज़ा समाचार.



source https://www.hindinewslatest.in/pmay-%e0%a4%b8%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%a4%e0%a5%87-%e0%a4%ae%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%96%e0%a4%b0%e0%a5%80%e0%a4%a6%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%ae%e0%a5%87/

Related Posts

टिप्पणी पोस्ट करें

Subscribe Our Newsletter