कोरोना वैक्सीन: देश में साढ़े पांच दिनों का स्टॉक, तेजी से जारी है उत्पादन


कोरोना वैक्सीन: देश में साढ़े पांच दिनों का स्टॉक, तेजी से जारी है उत्पादन- India TV Hindi

Image Source : FILE
कोरोना वैक्सीन: देश में साढ़े पांच दिनों का स्टॉक, तेजी से जारी है उत्पादन

नई दिल्ली: देश में कोरोना वैक्सीन का साढ़े पांच दिनों का स्टॉक बचा है जबकि उत्पादन की प्रक्रिया तेजी से जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक गुरुवार दोपहर साढ़े 12 बजे तक मौजूदा वैक्सीनेशन की दर के आधार पर देशभर में कोरोना वैक्सीन का साढ़े पांच दिनों का स्टॉक ही बचा है जबकि अगले एक हफ्ते की वैक्सीन के उत्पादन की प्रक्रिया जारी है। महाराष्ट्र, गुजरात, बंगाल, यूपी को सबसे ज्यादा वैक्सीन मिली है। वहीं स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक आंध्र प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में डेढ़ दिनों का स्टॉक बचा है। वहीं ओडिशा में चार दिनों का स्टॉक बचा है। 

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक अप्रैल में रोजाना करीब 36 लाख लोगों को वैक्सीन दी जा रही है। कुल 1 करोड 96 लाख का स्टॉक बचा हुआ है जो मौजूदा वैक्सीनेशन की रफ्तार को देखते हुए साढ़े पांच दिनों में खत्म हो जाएगा। वहीं दो करोड़ 45 लाख वैक्सीन उत्पादन की प्रक्रिया में है। यानी जल्द ही वो मार्केट में आने के लिए तैयार होगा और यह अगले एक हफ्ते के लिए पर्याप्त है। 

आपको बता दें कि देश में कोरोना काफी तेजी से फैल रहा है। पिछले 24 घंटे में देशभर में कोरोना के 1,31,968 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,30,60,542 हुई। वहीं 24 घंटे में 780 लोगों की मौत हुई है। कोरोना से देशभर में अबतक 1,67,642 लोगों की मौत हुई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 9,79,608 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,19,13,292 है। वहीं देश में अबतक कुल 9,43,34,262 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है। 



Source link

The post कोरोना वैक्सीन: देश में साढ़े पांच दिनों का स्टॉक, तेजी से जारी है उत्पादन appeared first on Latest News In Hindi हिंदी मैं ताज़ा समाचार.



source https://www.hindinewslatest.in/%e0%a4%95%e0%a5%8b%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%a8%e0%a4%be-%e0%a4%b5%e0%a5%88%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b8%e0%a5%80%e0%a4%a8-%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%b6-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%b8%e0%a4%be/

Related Posts

टिप्पणी पोस्ट करें

Subscribe Our Newsletter