भारत विरोधी ताक़तें कोरोना का सहारा लेकर देश में अविश्वास का माहौल बना सकती हैं: आरएसएस

आरएसएस के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले ने कहा कि देश के लोगों को मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए सकारात्मक माहौल बनाने के अलावा देश विरोधी ताक़तों से भी सतर्क रहना चाहिए.

dattatreya hosabale pti

आरएसएस के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले. (फाइल फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने लोगों से भारत विरोधी और विध्वंसकारी शक्तियों के षड्यंत्रों से सावधान रहने की अपील करते हुए दावा किया कि ऐसी ताकतें कोविड -19 की दूसरी लहर के कारण उत्पन्न प्रतिकूल परिस्थितियों का लाभ उठाकर देश में नकारात्मकता और अविश्वास का माहौल बना सकती हैं.

आरएसएस के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले ने संघ और स्वयंसेवकों तथा सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों से इन चुनौतियों से निपटने में आगे आने को कहा.

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के कारण अनेक राज्यों में गंभीर चुनौती उत्पन्न हो गई है. कई राज्यों में अस्पतालों में चिकित्सीय ऑक्सीजन की कमी के संकट का सामना सामना करना पड़ रहा है .

देश में कोविड-19 के एक दिन में 3,49,691 नए मामले सामने आने के साथ रविवार को संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,69,60,172 हो गए. वहीं, 2,767 संक्रमितों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 1,92,311 हो गई.

आरएसएस के बयान में होसबाले के हवाले से कहा गया है, ‘ऐसी स्थिति में संभव है कि भारत विरोधी शक्तियां लाभ उठाकर देश में नकारात्मकता और अविश्वास का वातावरण बनाए. ऐसे में लोगों को विध्वंसकारी शक्तियों के षड्यंत्रों से सावधान रहना चाहिए.’

संघ में नंबर-2 के पद पर काबिज होसबाले ने कहा कि देश के लोगों को स्थिति से निपटने के लिए सकारात्मक माहौल बनाने के अलावा ऐसी देश विरोधी ताकतों से भी सतर्क रहना चाहिए.

उन्होंने दावा किया कि आरएसएस कार्यकर्ता समाज की जरूरतों को पूरा करने के लिए देशभर में विभिन्न प्रकार की सेवाओं को सक्रिय रूप से चला रहे हैं.

संघ की ओर से सरकार्यवाह ने मीडिया सहित समाज के सभी वर्गो से आग्रह किया कि समाज में सकारात्मक माहौल एवं उम्मीद बनाये रखने में योगदान करें. उन्होंने कहा, ‘जो लोग सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं, उन्हें संयमित और सतर्क रहना चाहिए.’

होसबाले ने कहा कि इस बार महामारी की स्थिति अधिक गंभीर है, लेकिन समाज की शक्ति काफी अधिक है. बड़े से बड़े संकट से निपटने में हमारी क्षमता के बारे में दुनिया को पता है. हमारा दृढ़ मत है कि संयम बनाये रखकर और अनुशासन एवं आपसी सहयोग के साथ हम स्थिति से निपट लेंगे.

महामारी के बीच स्वास्थ्य व्यवस्था की दयनीय स्थिति और ऑक्सीजन की कमी पर होसबाले ने कहा, ‘अचानक स्थिति बिगड़ने के कारण लोगों को बेड्स, ऑक्सीजन और जरूरी दवाओं की अस्पताल में कमी हो रही है. भारत जैसे बड़े समाज में समस्या बहुत भयावह हो जाती है. इसका समाधान करने के लिए राज्य एवं केंद्र सरकारों द्वारा कदम उठाए जा रहे हैं.’

संघ के नेता ने लोगों से मास्क पहनने, साफ-सफाई रखने, सामाजिक दूरी बनाने, आयुर्वेदिक काढ़ा पीने, टीकाकरण पर जोर देने को लेकर जागरूकता फैलाने की अपील की है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)



source http://thewirehindi.com/167719/dattatreya-hosabale-rss-covid-19-corona-pandemic-second-wave-anti-india-force/

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ